Diwali 2017 Subh Muhrat Puja Vidhi Importence

Diwali 2017 Subh Muhrat Puja Vidhi : धनतेरस: मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
नरक चतुर्दशी (छोटी दीवाली): बुद्धवार, 18 अक्टूबर 2017
लक्ष्मी पूजा (मुख्य दिवाली): गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
बाली प्रतिप्रदा या गोवर्धन पूजा: शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
यम द्वितीय या भाईदूज: शनिवार, 21 अक्टूबर 2017
लक्ष्मी पूजा मुहूर्त- 19:11 से 20:16
प्रदोष काल- 17:43 से 20:16
वृषभ काल- 19:11 से 21:06
अमावस्या तिथि आरंभ- 00:13 (19 अक्तूबर)
अमावस्या तिथि समाप्त- 00:41 (20 अक्तूबर)

Diwali Date & Time 2017 Subh Mahurt

RkAlert.com पर आपका स्वागत है| आप को हमारी टीम की तरफ से दीपावली की बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ हम आपको इस पोस्ट मे दीपावली त्यौहार के बारे मे बताएँगे दीपावली को दीवाली भी कहते है अर्थात रोशनी का त्योहार कहते है यह त्यौहार अंधकार पर प्रकाश की विजय को दर्शाता है दीपावली 5 दिनों का त्यौहार है

दीपावली कब मनाई जाती है

दीपावली त्यौहार कार्तिक अमावस्या के दिन मनाया जाता है। लेकिन यह त्यौहार 5 दिनों (धनतेरस, नरक चतुदर्शी, अमावश्या कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा भाई दूज) का होता है इसलिए यह धनतेरस से शुरू होकर भाई दूज पर सम्पूर्ण होता है

दीपावली क्यों मनाई जाती

यह त्‍यौहार कार्तिक मास की कृष्‍ण पक्ष की अमावस्‍या को मनाया जाता है दीपावली का त्‍यौहार संपूर्ण भारतवर्ष में मनाया जाता है इसलिए इस त्‍यौहार को धार्मिक और अध्‍यात्मिक दोनों ही दृष्टि से अधिक महत्‍व दिया जाता है सिख धर्म के लोग यह त्‍यौहार इसलिए मनाते हैं, क्‍योंकि इस दिन उनके छठे गुरू हरगोबिन्‍द सिंह जेल से रिहा हुए थे इसी तरह से जैन धर्म के लोग इस त्‍यौहार को इसलिए मनाते हैं क्‍योंकि इसी दिन जैन संप्रदाय के चौबीसवें तीर्थकार महावीर स्‍वामी का निर्वाण हुआ था जबकि नेपालियों के लिए यह त्‍यौहार इसलिए महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि इस दिन नेपाल में नया वर्ष प्रारम्‍भ होता है

दीपावली पूजन व मनाने की विधि

दिवाली के दौरान मां लक्ष्मी अपने भक्तों पर धन की कृपा करती रहे इस दौरान भक्त अपने घरों को दीपक और रंगोली से सजाते रहे इस पूजा में देवी लक्ष्मी और गणेश की पूजा की जाती है ये पूजा घर की खुशहाली और व्यवसाय की तरक्की दोनों के लिए की जाती है दिवाली की पूजा में सबसे पहले एक चौकी पर सफेद वस्त्र बिछा कर उस पर मां लक्ष्मी, सरस्वती व गणेश जी का चित्र या प्रतिमा को विराजमान करें इसके बाद हाथ में पूजा के जलपात्र से थोड़ा-सा जल लेकर उसे प्रतिमा के ऊपर छिड़कें बाद में इसी तरह से स्वयं को तथा अपने पूजा के आसन को भी इसी तरह जल छिड़ककर पवित्र कर लें इसके बाद मां पृथ्वी को प्रणाम करे इसके बाद अपने आसन पर विराजमान हों इसके बाद मां लक्ष्मी की पूजा प्रारम करे

दीपावली कहाँ पर मनाई जाती है

हिन्दू जैन और सिख समुदाय द्वारा मनाया जाता है। श्रीलंका पाकिस्तान म्यांमार थाईलैंड मलेशिया सिंगापुर इन्डोनेशिया आस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड फिजी मॉरीशस केन्या तंजानिया दक्षिण अफ्रीका सूरीनाम त्रिनिदाद टोबैगो नीदरलैंड कनाडा ब्रिटेन सयुंक्त अरब अमीरात सयुंक्त राज्य अमेरिका आदि देशों मे दीपावली का त्यौहार मनाया जाता है

 

You Must Read

MDSU Rajasthan Pre-Teacher Education Test (PTET) A... Good news for the all applicants who are waiting for MAHARSHI DAYANAND SARASWATI UNIVERSITY(MDSU )Ra...
Rajasthan RBSE Class 12th Arts Results 20017 BSER ... Rajasthan RBSE Class 12th Arts Results 20017.(BSER)Rajasthan Board of Secondary Education,Ajmer will...
Rajasthan PTET Result 2017 Pre Bed Exam Cutt off M... Rajasthan Pre Bed Result 2017 – The Maharishi Dayanand Saraswati University (MDSU) Board is going to...
धन तेरस 2017 बधाई संदेश शायरी मेसेज... हेलो दोस्तों दीपावली तैयारियां धनतेरस से ही शुरू हो जाती हैं धनतेरस के त्योंहार से ही सभी लोगों का आ...
लालबहादुर शास्त्री जन्म दिवस पर भाषण व जीवन परिचय... लालबहादुर शास्त्री जन्म दिवस भाषण:आदरणीय प्रधानाध्यापक शिक्षकगण और मेरे प्यारे दोस्तों आप सभी को 2 अ...
BSER Board 10th Result 2017 माध्यमिक शिक्षा बोर्ड... माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान अजमेर 2017 की परीक्षा सफलता पूरक पूर्ण हो चुकी है | दोस्तों राजस्थान ...
राजस्थान पी . टी . ई . टी परीक्षा 2017 उतर कुंजी,र... Rajasthan Pre Bed Admission Coures Exam – All Those Candidate who had online apply Rajasthan BEd (Ba...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *