Latest News Update

गणतंत्र दिवस पर भाषण ,निबन्ध, कविता और नारे हिदी में

Republic day Speech Essay Slogn in Hindi

गणतंत्र दिवस पर मराठी भाषण ,हिंदी निबन्ध, कविता नारे और Republic Day Rajpth Prade Video

26 जनवरी भारत का राष्टीय त्यौहार हैं जो हर वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है इस दिन भारत एक लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित हुआ और भारत में सविधान लागू हुआ भारत 26 जनवरी को अपना 67 वां गणतंत्र दिवस मना रहा है 26 जनवरी का पर्व हर वर्ष बड़ी धूम धाम से मनाया जाता हैं | 26 जनवरी का दिन पुरे भारत वर्ष के लिए एक भाग्यशाली दिन हैं 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागु हुआ था डॉ भीमराव अम्बेडकर ने 2 वर्ष 11 माह 18 दिन के लम्बे समय में संविधान को 25 जनवरी 1949 को लिखकर तैयार किया गया | और 26 जनवरी 1950 इसे संविधान सभा में परित किया गया |इसलिए 26 जनवरी का दिन पूरे भारत वर्ष के लिए हमेशा के लिए यादगार बन गया और इसे हर वर्ष बड़ी धूमधाम से मनाया जाता हैं | 26 जनवरी को पूरे सम्मान के साथ हर वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है |

गणतंत्र दिवस पर्व 26 जनवरी 2017 – Republic Day of  india

दोस्तों’ हमारे देश के महान वीर सपूतो ने अंग्रजो की सैकड़ो वर्षो की गुलामी से कठिन संघर्ष करके 15 अगस्त 1947 को हमारे देश को आजाद करवाया, हजारो लोग अपनी माँत्रभमि की रक्षा करते हुए शहीद हो गये | सबसे पहले हम उन वीर शहीदों को श्र्न्धान्जली देते हैं जो अपनी माँत्रभमि की रक्षार्थ हँसते हँसते अपने प्राणों की बाजी लगा दी | महान पुरुषो के कठिन संघर्ष की बदोलत 15 अगस्त 1947 को हमारा देश आजाद तो हो गया लैकिन देश के नेताओ के सामने ये समस्या आ गई की अब आजाद भारत की शासन सत्ता को किसके हाथो में सोंपी जाये,और सरकार को सुचारू रूप से केसे चलाया जाये इन सब बातो को ध्यान में रखते हुए महान नेताओ ने एक सभा बनाई,इस सभा को संविधान सभा का नाम दिया गया, संविधान सभा की अध्यक्षता डॉ भीमराव अम्बेडकर ने की | 26 जनवरी 1950 को हमारे भारत का संविधान लागु हुआ था

गणतंत्र दिवस के बारे में 10 महत्वपूर्ण तथ्य – Republic Day on Interesting Fact in hindi

  1. भारत का सविधान एक लिखित संविधान है
  2. भारत के संविधान को बनने में 2 साल 11 महीने 18 दिन का समय लगा
  3. 395 अनुच्छेद 8 अनुसुचिओं के साथ भारतीय संविधान दुनियां में सबसे बड़ा लिखित संविधान है
  4. इस दिन भारत के अंतिम गवर्नर जनरल चक्रवर्ती राजगोपालचारी ने भारत को गणराज्य घोषित किया था
  5. 26 जनवरी 1950 को भारत के पहले प्रधान मंत्री डॉ राजेंद्र प्रसाद ने गवर्मेंट हाउस में राष्ट्रपति की शपथ ली
  6. भारत के पहले गणतंत्र दिवस के मुख्य अथिति इंडोनेशिया के राष्ट्रपति सुकर्णो थे
  7. सन 1957 से 26 जनवरी को सरकार ने 16 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार शुरू किया
  8. 26 जनवरी 1965 को भारत को हिंदी राष्ट्र घोषित किया गया था
  9. भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने 26 जनवरी 1950 को राष्ट्रीय अवकास घोषित किया था
  10. प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने इस दिन इरविन स्टेडियम में भारतीय तिरंगा फहराया था

भारत के गणतंत्र दिवस पर भाषण हिंदी में – Speech on Republic Day

आदरणीय प्रधानाध्यापकजी /प्रधानाध्यापिकाजी एवं मुख्य अतिथि,विशिष्ट अतिथि, गुरुजन गण और गाँव से पधारे हुए बड़े बुजुर्ग लोग और माता बहने और प्रांगण में बैठे मेरे साथियों सभी का गणतंत्र दिवस पर में हाथ जोडकर हार्धिक अभिनन्दन करता हूँ | साथियों इस वर्ष हम 68वा गणतंत्र दिवस मनाने जा रहे हैं | सबसे पहले हम उन वीर शहीदों को श्र्न्धान्जली अर्पित करते हैं जिन्होंने अपनी माँत्रभमि की रक्षार्थ हँसते हँसते अपने प्राणों की बाजी लगा दी उनको हम शत शत नमन करते हैं | भा इयों हम सभी को पता हैं की 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागु हुआ था बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर ने 2 वर्ष 11 माह 18 दिन के समय में भारत के लिए एक विशाल संविधान बनाकर तैयार किया और 26 जनवरी 1950 को उसे लागु किया गया इसलिए 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता हैं |

गणतंत्र का अर्थ है देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति । इसलिये, भारत एक गणतंत्र देश है जहाँ जनता अपना नेता प्रधानमंत्री के रुप में चुनती है। भारत में ‘पूर्ण स्वराज’ के लिये हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने बहुत संघर्ष किया। उन्होंने अपने प्राणों की आहूति दी जिससे उनके आने वाली पीढ़ी को कोई संघर्ष न करना पड़े और वो देश को आगे लेकर जाएँ।

हमारे देश के महान नेता और स्वतंत्रता सेनानी महात्मा गाँधी, भगत सिंह, चन्द्रशेखर आजाद, लाला लाजपत राय, सरदार बल्लभ भाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री आदि थे। भारत को एक आजाद देश बनाने के लिये इन लोगों ने अंग्रेजों के खिलाफ़ लगातार लड़ाई की। अपने देश के लिये हम इनके समर्पण को कभी नहीं भूल सकते हैं। हमें ऐसे महान अवसरों पर इन्हें याद करते हुये सलामी देनी चाहिये। केवल इन लोगों की वजह से हि हम आज आजाद भारत के नागरिक हैं ।

भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद थे जिन्होंने कहा था कि, “एक संविधान और एक संघ के क्षेत्राधिकार के तहत हमने इस विशाल भूमि के संपूर्ण भाग को एक साथ प्राप्त किया है जो यहाँ रहने वाले 320 करोड़ पुरुष और महिलाओं से ज़्यादा के लोक-कल्याण के लिये जिम्मेदारी लेता है”। कितने शर्म से ये कहना पड़ रहा है कि हम अभी भी अपने देश में अपराध, भ्रष्टाचार और हिंसा (आतंकवाद, बलात्कार, चोरी, दंगे, हड़ताल आदि के रुप में) से लड़ रहें हैं। फिर से, ऐसी गुलामी से देश को बचाने के लिये सभी को एक-साथ होने की ज़रुरत है क्योंकि ये विकास और प्रगति के मार्ग को अवरूध क्र रहे हैं और देश को आगे जाने की बजाय पीछे खींच रहा है।

दोस्तों अगर एक देश भ्रष्ट्राचार मुक्त होता है तो सुंदर मस्तिष्क का एक राष्ट्र बनता है, मैं दृढ़ता से महसूस करता हूं कि तीन प्रधान सदस्य हैं जो अंतर पैदा कर सकते हैं। वो पिता, माता और एक गुरु हैं”। भारत के एक नागरिक के रुप में हमें इसके बारे में गंभीरता से सोचना चाहिये और अपने देश को आगे बढ़ाने के लिये सभी मुमकिन प्रयास करना चाहिये।

धन्यवाद, जय हिन्द।

गणतंत्र दिवस पर निबंध हिंदी में – Essay Nibandh on Republic Day in Hindi

गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है । यह दिवस भारत के गणतंत्र बनने की खुशी में मनाया जाता है । 26 जनवरी, 1950 के दिन भारत को एक गणतांत्रिक राष्ट्र घोषित किया गया था । इसी दिन स्वतंत्र भारत का नया संविधान अपनाकर नए युग का सूत्रपात किया गया था । यह भारतीय जनता के लिए स्वाभिमान का दिन था । संविधान के अनुसार डॉ. राजेन्द्र प्रसाद स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति बने । जनता ने देश भर में खुशियाँ मनाई । तब से 26 जनवरी को हर वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा है ।

26 जनवरी का दिन भारत के लिए गौरवमय दिन है । इस दिन देश भर में विशेष कार्यक्रम होते हैं । विद्‌यालयों, कार्यालयों तथा सभी प्रमुख स्थानों में राष्ट्रीय झंडा तिरंगा फहराने का कार्यक्रम होता है । बच्चे इनमें उत्साह से भाग लेते हैं । लोग एक-दूसरे को बधाई देते हैं । स्कूली बच्चे जिला मुख्यालयों, प्रांतों की राजधानियों तथा देश की राजधानी के परेड में भाग लेते हैं । विभिन्न स्थानों में सांस्कृतिक गतिविधियाँ होती हैं । लोकनृत्य, लोकगीत, राष्ट्रीय गीत तथा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम होते हैं । देशवासी देश की प्रगति का मूल्यांकन करते हैं ।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य कार्यक्रम राजधानी दिल्ली में होता है । भारत के राष्ट्रपति राष्ट्रध्वज फहराते हैं और उन्हें 21 तोपों की सलामी दी जाती हैं

गणतंत्र दिवस पर नारे – Slogn on Republic Day in Hindi

  1. स्वतंत्रत भारत ,प्यारा भारत , सबसे न्यारा हमारा भारत,

  2. स्वतंत्रता कुछ भी नहीं है, इसलिये दिखाई नहीं देती सिर्फ महसूस की जाती है।

  3. स्वतंत्रता वो धन है जो मनुष्य को शारीरिक, मानसिक सामाजिक और मनोवैज्ञानिक तौर पर खुश करता है।

  4. राष्ट्रीय ध्वज के रंगों को मत देखों, बस केवल इसके पीछे छिपे अर्थ को महसूस करो।

  5. स्वच्छ भारत, हरा भारत, प्रदूषण मुक्त भारत।

  6. स्वच्छ भारत, विकसित भारत, गणतंत्र भारत का बस यही उद्देश्य है।

  7. याद रखेंगे वीरो तुमको हरदम, यह बलिदान तुम्हारा है, हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है.

  8. इस दिन के लिए वीरो ने अपना खून बहाया है, झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है,

  9. अपनी जमीन अपना वतन, आवाज दो हम एक है.

  10. सबके अधिकारों का रक्षक अपना ये गणतंत्र पर्व है, लोकतंत्र ही मंत्र हमारा हम सबको इस पर्व पर गर्व है.

  11. कश्मीर से कन्याकुमारी, भारत माता एक हमारी.

  12. देश भक्तों के बलिदान से, स्वातंत्र्य हुए है हम. कोई पूछे कोन हो, तो गर्व से कहेंगे इंडियन है हम….

  13. ना जियो धर्म के नाम पर, ना मरो धर्म के नाम पर, इंसानियत ही हे धर्म वतन का बस जियों वतन के नाम पर.

  14. कसम गणतंत्र दिवस पर ये खायेगे, हम सभी एकजुटता से मिलकर रहेंगे.

  15. गांधीजी का सपना सत्य बना, तभी तो देश गणतंत्र बना.

  16. भारत का भविष्य बदलने के लिये, बच्चों को बचाओ, महिलाओं को बचाओ।

गणतंत्र दिवस पर कविता – Kavita on Republic Day

देखो 26 जनवरी है आयी, गणतंत्र की सौगात है लायी।

अधिकार दिये हैं इसने अनमोल, जीवन में बढ़ सके बिन अवरोध।

हर साल 26 जनवरी को होता है वार्षिक आयोजन,

लाला किले पर होता है जब प्रधानमंत्री का भाषण ,

नयी उम्मीद और नये पैगाम से, करते है देश का अभिभादन,

अमर जवान ज्योति, इंडिया गेट पर अर्पित करते श्रद्धा सुमन,

2 मिनट के मौन धारण से होता शहीदों को शत-शत नमन।

सौगातो की सौगात है, गणतंत्र हमारा महान है,

आकार में विशाल है, हर सवाल का जवाब है,

संविधान इसका संचालक है, हम सब का वो पालक है,

लोकतंत्र जिसकी पहचान है, हम सबकी ये शान है,

गणतंत्र हमारा महान है, गणतंत्र हमारा महान है।

26 जानेवरी भाषण मराठी – Speech on Republic Day in Marathi

भारतीय प्रजासत्ताक दिवस हा भारताच्या प्रजासत्ताकात दरवर्षी २६ जानेवारी या दिवशी पाळला जाणारा राष्ट्रीय दिन आहे. भारताची राज्यघटना संविधान समितीने २६ नोव्हेंबर, इ.स. १९४९ रोजी स्वीकारली व ती २६ जानेवारी इ.स. १९५० रोजी अंमलात आली. जवाहरलाल नेहरूंनी २६ जानेवारी इ.स. १९३० रोजी लाहोर अधिवेशनात तिरंगा फडकावून पूर्ण स्वराज्याची घोषणा केली होती. त्याची आठवण म्हणून २६ जानेवारी हा दिवस राज्यघटना अंमला आणण्यासाठी निवडण्यात आला.

आपण ज्याप्रमाणे धार्मिक सणवार उत्सव हे मोठ्या आनंदाने, कौतुकाने उत्साहाने साजरे करतो. त्या प्रमाणेच संपूर्ण भारतवासी काही राष्ट्रीय सण उत्सव सुद्धा साजरे करतो. त्यातील एक राष्ट्रीय सण म्हणजे दरवर्षी साजरा होणारा ‘प्रजासत्ताक दिन’ आपला भारत देश प्रजासत्ताक दिन साजरा करतो तो २६ जानेवारीला.

हा दिवस शाळा कॉलेजातून सरकारी-निमसरकारी कार्यालयातून, सोसायट्या, चौकांतून झेंडावंदन करून साजरा केला जातो. तिरंगी झेंडा हा देशाचा राष्ट्रध्वज आहे. मान्यवर व्यक्ती निवृत्त अधिकारी नेते मंडळी ह्यांच्या हस्ते हे ध्वजवंदन केले जाते. शाळा कॉलेजपासून कवायती. भाषणे विविध कार्यक्रम केले जातात. लहान मुले हातात झेंडे घेऊन नाचतात. राष्ट्रध्वज गौरवाने छातीवर लावला जातो.

१५ ऑगस्ट १९४७ साली भारताला स्वातंत्र्य मिळाले. परवशतेचे पाश तुटले आणि स्वतंत्र भारताच्या पुढील योजना काय असतील, देश कोणत्या वाटेनं वाटचाल करेल. लोकांच्या कल्याणाच्या कोणत्या योजना राबवल्या जातील हे सारं ठरवण्यासाठी तत्कालीन नेते, पुढारी सुपुत्र ह्यांनी आपल्या देशाची एक राज्यघटना बनवली. ह्या राज्य घटनेची आखणी मांडणी करण्यासाठी एक समिती नेमली होती. त्या समितीचे अध्यक्ष होते. डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर. स्वतंत्र भारताच्या राज्य घटनेचे शिल्पकार हा बहुमान त्यांना आम जनतेने बहाल केला आहे.

गणतंत्र  दिवस परेड विडियो – Republic day viodeo

Popular Topic On Rkalert

26 जनवरी 2017 गणतंत्र दिवस पर देश भक्ति कविता... Desh Bhakti Poems In Hindi, 26 January 2017,गणतंत्र दिवस पर कविता ,Desh Bhakti Poems,गणतन्त्र दिवस ब...


More News Like Our Facebook Page Follow On Google+ And Alert on Twitter Handle


User Also Reading...
RRB NTPC Result 2016 IBPS Clerk Recruitment Rio Olympic 2016
JobAlert Android Apps Punjabi Video
HD Video Health Tips Funny Jokes

Must Read…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*