December 9, 2016
Latest News Update

दीपवाली पर धनलक्ष्मी के महत्वपूर्ण चमत्कारिक मंत्र और टोटके जो आपको कर दे मालामाल

दीपावली के दिन धन प्राप्ति के लिए विशेष मंत्र – Diwali Dhan Prapti Mantra

दीवाली हिन्‍दुओं का सबसे बड़ा त्‍योहार है और इस दिन सभी अपने घर की सुख शांति और समृद्धि के लिए मां लक्ष्‍मी एवं भगवान गणेश का पूजन करते हैं। यदि आप पैसे से काफी परेशान हैं और इस दीवाली आर्थिक समस्‍याओं से निपटने के लिए एवं अच्‍छे फल प्राप्‍त करने के लिए पूजन करना चाहते हैं तो उसकी विधि जानिय –

Deepwali Laxmiji Poojan Vishesh Mantra Totke Upay in Hindi

यदि आप आर्थिक समस्याओं से निरन्तर जूझ रहें तो, आप धनतेरस से दीपावाली तक लगातार 3 दिन तक संध्या काल में श्री गणेश स्त्रोत का पाठ करें। पाठ करने के पश्चात गाय को हरी सब्जी अवश्य खिलायें।

जिन जातकों पर ऋण है तथा ऋण के कारण धन का संचय नहीं कर पाते जिसके कारण चिन्तित रहते है। तो आप इस उपाय को अवश्य करें।

  • नरक चतुर्दशी के दिन एक लकड़ी के पाटे पर लाल वस्त्र विछाकर उस पर लाल चन्दन, लाल गुलाब तथा थोड़ी रोली रखकर पोटली बनायें और उसका पूजन करें। पूजन के पश्चात उसे धन रखने के स्थान रख दें।
  • तीन माह बाद जो भी शुक्ल पक्ष का प्रथम मंगलवार आये तो इसी प्रकार एक नयीं पोटली बनाकर पूजन कर उसे पहली वाली पोटली के स्थान पर रख दें और पुरानी पोटली को जल में प्रवाहित कर दें। इस प्रकार आप प्रत्येक तीन माह बाद पोटली बदलते रहें। इस उपाय को आप एक वर्ष तक करें तो, आपको ऋण से छुटकारा भी मिलेगा साथ ही आप धन संचय करने में भी सफलता प्राप्त करेंगे।

दीपवाली पूजा के लिए विशेष मंत्र – Deepwali Poojan ke liye Mantra

1. जो लोग कलम-दवात का पूजन करते हैं, वे मंत्र : ऊँ महाकाले नमः ऊँ लेखन्यै नमः  का जाप करें।
2. जो जातक बही-खाता का पूजन करते हैं, वे मंत्र : ऊँ सरस्वत्यै नमः  का जाप करें।
3. जो लोग कुबेर पूजन (तिजोरी-बाक्स) करते हैं, वे मंत्र ; कृतेन अनेन पूजनेन कुबेरः प्रीयताम न मम् का जाप करें
4. जो जातक तुला, तराजू, कांटा आदि का पूजन करते हैं, वे मंत्र : ऊँ तुलाय नमः का जाप करें।
5. जो लोग दीपक का पूजन करते हैं, वे मंत्र : ऊँ दीपवृक्षाय नमः का जाप करें।

दीपवाली पूजा विशेष मंत्र  – Deepwali Pooja Mantra

1. लक्ष्मी विनायक मन्त्र / Lakshmi Vinayaka Mantra :

ॐ श्रीं गं सौम्याय गणपतये वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा॥

2. लक्ष्मी गणेश ध्यान मन्त्र / Lakshmi Ganesha Dhyana Mantra :

दन्ताभये चक्रवरौ दधानं, कराग्रगं स्वर्णघटं त्रिनेत्रम्। धृताब्जयालिङ्गितमाब्धि पुत्र्या-लक्ष्मी गणेशं कनकाभमीडे॥

3.  Rinharta Ganapati Mantra / ऋणहर्ता गणपति मन्त्र :

ॐ गणेश ऋणं छिन्धि वरेण्यं हुं नमः फट्॥

दिवाली पर धन प्राप्ति के लिए कुछ विशेष मंत्र – Deepwali Dhan Prapati Mantra

Deepwali Dhan Prapati Mantra

  •  ‘ॐ श्रीं श्रियै नम:।’ 

  •  ‘ॐ श्री ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्री ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:।’

  • ‘ॐ श्रीं श्रीं श्रीं नम:।’ 

  • व्यापार वृद्धि के लिए निम्न मंत्र श्रीयंत्र को सामने रखकर पूजन कर जपें। – मंत्र- ‘ॐ ह्रीं ऐं व्यापार वृद्धिं ॐ नम:।’

  • जिन व्यक्तियों को मकान बनाने या जमीन या प्लॉट खरीदने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, वे निम्न मंत्र का जप करें, शीघ्र अभिलाषा पूर्ण होगी : ‘ॐ

ह्रीं वसुधा लक्ष्म्यै नम:।।’ 

जो लोग धनहीन है या जिनके पास धन की कमी है वे सोचते हैं कि अचानक कहीं से धन लाभ हो जाए जिससे धन संबंधी उनकी सभी समस्याएं समाप्त हो जाएं। हालांकि ऐसा होना काफी मुश्किल है। लेकिन यदि नीचे लिखा उपाय पूर्ण श्रद्धा व विश्वास के साथ किया जाए तो ऐसा संभव है। इस उपाय को करने से अचानक धन लाभ होता है। यह उपाय इस प्रकार है

दिवाली पर धन प्राप्ति के उपाय,टोटके – Diwali Dhan Prapati Ke Totke

शुक्ल पक्ष के किसी शुक्रवार को रात 12 बजे के बाद नहाकर व साफ वस्त्र पहनकर घर के किसी एकांत स्थान पर एक बाजोट(पटिया) रखें। इसके ऊपर लाल कपड़ा बिछाएं और पीले फूल का एक आसन बनाएं। इसके ऊपर श्री चक्र स्थापित कर विधि-विधान से इसकी पूजा करें। इसके बाद नीचे लिखे मंत्र का जप 51 बार करें-

ऊँ ह्रीं श्रीं ह्रीं नम:

इसके बाद श्री चक्र को एक सफेद कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी में रख दें। ग्यारह दिन के बाद श्री चक्र को बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। इस उपाय से अचानक धन लाभ होगा।

घर में छुपी ये चीजें रोक देती है पैसा और तरक्की, बचें इन चीजों से

अगर अचानक आपके दिन बदलने लगें, अच्छे दिन बुरे दिनों में बदल जाएं तो आप सम्भल जाएं। अगर आपके साथ ऐसा होने लगे तो अपने घर पर ध्यान दें। अपने ही घर में रखी चीजों पर ध्यान दें। वास्तु के अनुसार आपके पैसों और तरक्की पर बुरा असर डालने वाली चीजें आपके ही घर में रखी होती है और आपको पता नहीं रहता। अक्सर घर में रखी कुछ चीजें एक समय के बाद बुरा असर देने लगती है। इनमें से कुछ चीजें आपके दैनिक जीवन से संबंधित होती है।

जानिए क्या करें और कैसे बचें-

– अगर आपके घर में बहुत दिनों से बंद घड़ी है तो उसे हटा दें बंद घड़ी घर में आते हुए पैसों को रोक देती है।
– आपके घर में टूटी हुई चेयर या टेबल पड़ी है तो उसे तुरंत घर से हटा दें। ये आपके पैसों और तरक्की को रोक देती है।
– पुराने या टूटे हुए जूते-चप्पल आपको आगे बढऩे से रोक देते हैं। इन्हे घर से निकाल दें।
– पूजा में चढ़े हुए और मुरझाए हुए फूल घर में नहीं रखें इनसे अशुभ फल मिलता है।
– घर में बनने वाले मकड़ी के जाले तुरंत हटा दें इनसे आपके अच्छे दिन बुरे दिनों में बदल सकते हैं।
– अगर बुरी नजर या ताकत से बचने के लिए नींबू-मिर्च लग रखें है तो हर रविवार को उन्हें हटा दें और नए लगा दें।

दीपवाली पर ये है मालामाल बनने के चमत्कारी उपाय – Wonderful Totke for Diwali  

धन प्राप्ति के लिए किए जाने वाले तंत्र प्रयोगों में कई वस्तुओं का उपयोग किया जाता है, कमल गट्टा भी उन्हीं में से एक है। कमल गट्टा कमल के पौधे में से निकलते हैं व काले रंग के होते हैं। यह बाजार में आसानी से मिल जाते हैं। मंत्र जप के लिए इसकी माला भी बनती है। इसके अलावा भी इसके कई प्रयोग हैं। इसके कुछ प्रयोग नीचे लिखे हैं जिनसे माता लक्ष्मी को प्रसन्न किया जा सकता है।

दिवाली पर मालामाल बनने के चमत्कारी उपाय – Deepwali par Malalal Banne Ke Totke

1- जो व्यक्ति प्रत्येक बुधवार को 108 कमलगटटे के बीज लेकर घी के साथ एक-एक करके अग्नि में 108 आहुतियां देता है। उसके घर से दरिद्रता हमेशा के लिए चली जाती है।
2- जो व्यक्ति पूजा-पाठ के दौरान की माला अपने गले में धारण करता है उस पर लक्ष्मी की कृपा सदा बनी रहती है।
3- यदि रोज 108 कमल के बीजों से आहुति दें और ऐसा 21 दिन तक करें तो आने वाली कई पीढिय़ां सम्पन्न बनी रहती हैं।
4- यदि दुकान में कमल गट्टे की माला बिछा कर उसके ऊपर भगवती लक्ष्मी का चित्र स्थापित किया जाए तो व्यापार में कमी आ ही नहीं सकती। उसका व्यापार निरंतर उन्नति की ओर अग्रसर होता रहता है।
5- कमल गट्टे की माला भगवती लक्ष्मी के चित्र पर पहना कर किसी नदी या तालाब में विसर्जित करें तो उसके घर में निरंतर लक्ष्मी का आगमन बना रहता है।

दीपवाली – पैसे के साथ मिलेगा सुख भी, जब करेंगे यह उपाय – Money and Rest Totke for Deepwali

जिन लोगों के पास पैसा नहीं है वे सदैव धन अर्जित करने का प्रयास करते रहते हैं। कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिनके पास धन-संपत्ति तो बहुत है लेकिन फिर भी वे सुखी नहीं है। यह आवश्यक नहीं है कि यदि आप समृद्ध हैं तो सुखी भी होंगे। दोनों का एक साथ मिलना बहुत मुश्किल होता है। क्योंकि अगर पैसा है तो उसके साथ अन्य बहुत ही परेशानियों भी रहती है। यदि आप चाहते हैं कि आपके घर समृद्धि के साथ सुख का भी वास हो तो नीचे लिखे उपाय करें-

उपाय

1- शाम के समय घर में झाड़ू-पोंछा न लगाएं।
2- गुरुवार के दिन किसी विवाहित महिला को सुहाग की सामग्री भेंट करें। संभव हो तो ऐसा हर गुरुवार को करें।
3- चींटियों को शक्कर मिला हुआ आटा खिलाएं।
4- चैक बुक, पास बुक, पैसे के लेन-देन संबंधी कागजात, पूंजी निवेश संबंधी कागजात आदि श्रीयंत्र, कुबेर यंत्र आदि के समीप रखें।
5- व्यापार संबंधी लेखा-जोखा रखनी वाली किताब(रोकड़) पर केसर के छींटे अवश्य लगाएं।
6- दीपावली की रात या ग्रहण काल में एक लौंग, एक इलाइची जलाकर भस्म बना लें। इस भस्म को देवी-देवता के चित्र और यदि यंत्र हो तो उन पर लगा कर रखें।
7- किसी सूर्य के नक्षत्र में ऐसे पेड़ की टहनी तोड़ कर लाएं जिस पर चमगादड़ों का स्थाई निवास हो। इस टहनी को अपने बिस्तर के नीचे रख कर सोएं।
इन उपायों को करने से आपका जीवन सुखी व समृद्धिशाली होगा।

ये पौधा घर के सामने हो तो ना होगी धन की कमी, ना होगा बुरा प्रभाव – 

पेड़-पौधों का सबसे बड़ा फायदा है कि उनसे हमें ऑक्सीजन गैस प्राप्त होती है। इसके अलावा प्राकृतिक दृष्टिकोण से भी पेड़-पौधों का सर्वाधिक महत्व है। इनके बिना वातावरण को संतुलित किया ही नहीं जा सकता। हर परिस्थिति में हरियाली हमारे लिए फायदेमंद ही है। इन फायदों के साथ ही शास्त्रों के अनुसार कई धार्मिक और ज्योतिषीय महत्व भी बताए गए हैं।

  • कुछ पेड़-पौधे ऐसे हैं जिनसे हम कई चमत्कारिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं। हमारे घर या घर के आसपास होने पर ही इनके फायदे प्राप्त होते हैं। इन पेड़ों-पौधों में आंकड़े का पौधा भी शामिल है, यदि यह घर के सामने हो तो बहुत लाभ पहुंचाता है।
  • शास्त्रों अनुसार आंकड़े के फूल शिवलिंग पर चढ़ाने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं और अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। आंकड़े पौधा मुख्यद्वार पर या घर के सामने हो तो बहुत शुभ माना जाता है। इसके फूल सामान्यत: सफेद रंग के होते हैं। विद्वानों के अनुसार कुछ पुराने आंकड़ों की जड़ में श्रीगणेश की प्रतिकृति निर्मित हो जाती है जो कि साधक को चमत्कारी लाभ प्रदान करती है।
  • ज्योतिष के अनुसार जिस घर के सामने या मुख्यद्वार के समीप आंकड़े का पौधा होता है उस घर पर कभी भी किसी नकारात्मक शक्ति का प्रभाव नहीं पड़ता है। इसके अलावा वहां रहने वाले लोगों को तांत्रिक बाधाएं कभी नहीं सताती। घर के आसपास सकारात्मक और पवित्र वातावरण बना रहता है जो कि हमें सुख-समृद्धि और धन प्रदान करता है। ऐसे लोगों पर महालक्ष्मी की विशेष कृपा रहती है और जहां-जहां से लोग कार्य करते हैं वहीं से इन्हें धन लाभ प्राप्त होता है।

पैसा ही पैसा बरसेगा उस घर में जहां हो ऐसा

घर में पैसा और बरकत के लिए न्यूमरोलॉजी और वास्तु का अनोखा कनेकशन होना जरूरी होता है। ऐसे घर का वास्तु न्यूमरोलॉजी के अनुसार यानी आपकी डेट ऑफ बर्थ के अनुसार होना चाहिए। ऐसे कनेक्शन के लिए अपनी बर्थ डेट को जोड़ें और जो अंक आए उसके अनुसार अपने घर का या कमरे का वास्तु रखें ऐसा करने से लक्ष्मी उस घर से कहीं नहीं जाएगी।

अंक 1

 अंक 1 वाले अपने घर का वास्तु दोष मिटाने के लिए घर के शयनकक्ष में इन रंगों से सम्बंधित परदों का इस्तेमाल करें इनसे मानसिक तनाव तो दूर होगा ही साथ ही बरकत बनी रहेगी।

अंक- 2

– इस अंक वालों को अपने कमरे में गहरे हरे से लेकर सभी प्रकार के क्रीम, पीला, लाल, सफेद रंग के परदों का उपयोग करें। इस तरह के परदें अचनक धन लाभ ेदेने वाले होंगे।

अंक- 3

इस अंक वालों का स्वामी गुरु होता है इसलिए इस अंक वालों को बरकत और पैसों के लिए पीला, केसरिया, या गुलाबी रंग अपने कमरे के परदों के लिए चुनना चाहिए।

अंक- 4

इस अंक का स्वामी राहु होता है राहु के अशुभ प्रभाव और वास्तु दोष दूर करने के लिए धूमिल, नीले या स्लेटी रंग के परदें अंक 4 वालों के लिए शुभ फल देने वाले होते है।

अंक- 5

यह बुध का अंक होता है। इस अंक वालों को अपने घर का वास्तु दोष दूर करने के लिए हरे, हल्के स्लेटी, सफेद या हल्के खाकी रंग के परदों का उपयोग करना चाहिए। इससे अंक 5 वालों के घर में बरकत बनी रहती है।

अंक- 6

– इस अंक वालों को शुक्र के कारण होने वाले वास्तु दोष मिटाने के लिए गुलाबी, चॉकलेटी, हल्के नीले, गहरा नीले रंग के परदों का उपयोग करना चाहिए। इससे घर की लक्ष्मी कहीं नहीं जाएगी।

अंक- 7

– अपने घर का वास्तु दोष दूर करने के लिए इस अंक वालों को अपने अंंक के स्वामी के अनुसार सफेद, हल्के लाल, हल्के पीले रंग के परदों का उपयोग करना चाहिए।

अंक- 8

– अंक आठ शनि का अंक होता है इसलिए इस अंक वालों को वास्तु दोष मिटाने के लिए नीले, भूरे, बैंगनी, पीले या काले, रंग के परदों का उपयोग वास्तु दोष मिटाने के लिए करना चाहिए।

अंक- 9

लाल और गुलाबी रंग के परदें इस अंक वालों के घर का वास्तु दोष दूर करेंगे। इस अंक वालों का वास्तु दोष दूर होते ही धन लाभ के योग बनने लगते है।

ऐसे हाथ वालों पर होती है पैसों की बरसात….

हमारे हाथों में केवल कोई एक लकीर ही हमें धनवान नहीं बना सकती। इंसान के हाथों में ऐसे कई योग होते हैं जो उसे कुबेर जैसा धनवान बनाते हैं। ऐसे लोगों के हाथों में कोई एक चिन्ह या निशान ही उन्हें पूरी तरह संपन्न नहीं बना सकता। बल्कि पूरे हाथ के लक्षण देख कर ये बताया जा सकता है कि उस व्यक्ति पर लक्ष्मी कितनी मेहरबान है।हाथों में ऐसे कई लक्षण होते हैं जिनसे व्यक्ति की किस्मत चमक जाती है और उस पर धन की बरसात लगातार होती है।

हाथों में वो ऐसे कौन से लक्षण है जो व्यक्ति को करोड़पति बना सकते हैं।

जब हथेली मध्य से ऊपर उठी हुई हो तो जातक समृद्ध होता है। ऐसी स्थिति में यदि सूर्य रेखा यानी रिंग फिंगर के नीचे के क्षेत्र से निकलने वाली रेखा और मस्तिष्क रेखा के साथ ही बृहस्पति यानी इंडैक्स फिंगर के नीचे वाला पर्व सुविकसित हो तो ऐसा व्यक्ति करोड़पति होता है।
 अंगूठा यदि मोटा और गद्देदार हो तो व्यक्ति सम्पन्न होगा।

  • जब भाग्य रेखा यानी मिडिल फिंगर के क्षेत्र से निकलने वाली रेखा, सूर्य रेखा और बृहस्पति का संबंध बने और साथ ही मणिबंध जंजीरदार हो तो ऐसा व्यक्ति करोड़पति होता है।
  • हथेली में वर्ग का चिन्ह हो साथ ही सूर्य रेखा और भाग्य रेखा के साथ ही बुध रेखा यानी लिटिल फिंगर के क्षेत्र से निकलने वाली रेखा सभी अच्छी स्थिति में हो तो व्यक्ति करोड़पति बनता है।
  • जिसके हाथ में कलश, ध्वजा, मछली, चक्र, दंड आदि का चिन्ह होता है तो ऐसा व्यक्ति करोड़पति होता है।
  • यदि हथेली में मस्तिष्क रेखा, बुध रेखा, और भाग्य रेखा से त्रिकोण बनता है तो व्यक्ति निश्चित ही अमीर होता है।
    जिसके हाथ में सुपष्ट जीवन रेखा, स्वस्थ्य भाग्य रेखा और बिना किसी दोष की लम्बी सूर्य रेखा होती है तो ऐसे में व्यक्ति के हाथ में अष्टलक्ष्मी योग बनता है। ऐसा व्यक्ति अतुल्यनीय धन सम्पति का स्वामी होता है।
  • यदि सूर्य पर्वत यानी रिंग फिं गर के नीचे का क्षेत्र विकसित हो सूर्य रेखा हथेली के मध्य में आकर शुक्र पर्वत की ओर जाती है। रेखा पर किसी तरह की बाधा ना हो तो ऐसा व्यक्ति राजराजेश्वर योग होता है। ऐसे लोगों के पास अपार सम्पति होती है।
  • यदि गुरू पर्वत यानी इंडैक्स फिंगर के नीचे वाले क्षेत्र पर क्रास का चिन्ह हो भाग्य रेखा , जीवन रेखा, और सूर्य रेखा सपष्ट हो तो साथ ही गुरू पर्वत के साथ ही मंगल पर्वत भी पूर्ण विकसित हो तो ऐसा व्यक्ति भी अपने जीवन में अत्याधिक सफलता और समृद्धि प्राप्त करता है।

दीपवाली पर तिजोरी में जरूर रखना चाहिए पूजा की सुपारी – Deepwali pooja ki Supari or Tizori

कहते हैं पूजा से मन को शांति व एकाग्रता मिलती है। इसीलिए लोग अपने घर में अक्सर किसी त्यौहार या विशेष उपलक्ष्य पर पूजन का आयोजन करते हैं। पूजन के समय सर्वप्रथम श्री गणेश का पूजन किया जाता है। गणेशजी की मुर्ति की स्थापना के साथ ही पूजा की सुपारी में भी गणेश जी का आवाह्न किया जाता है क्योंकि पूजन के समय सबसे पहले गौरी व गणेश की स्थापना जरूरी मानी जाती है।
गणेशजी का आवाह्न पूजा की सुपारी में किया जाता है क्योंकि शास्त्रों के अनुसार पूजा की सुपारी को पूर्ण फल माना जाता है। पूजा की सुपारी पूर्ण व अखंडित होती है। इसीलिए इसको पूजा के समय गौरी-गणेश का रूप मानकर उस पर जनेऊ चढ़ाई जाती है।बाद में उस पूजा की सुपारी का क्या करें अधिकतर लोगों के मन में यही दुविधा रहती है? कहा जाता है कि पूजा सुपारी को पूजन के बाद तिजोरी में रखना चाहिए क्योंकि शास्त्रों के अनुसार यह मान्यता है कि जहां गणेशजी यानी बुद्धि के स्वामी का निवास होता है वहीं लक्ष्मी का निवास होता है। इसीलिए पूजा सुपारी को पूजन के बाद तिजोरी में रखना चाहिए क्योंकि इससे घर में सुख-समृद्धि बढऩे के साथ ही घर में लक्ष्मी का स्थाई निवास होता है।

दीपावली लकी चार्म – Diwali Lucky Charm

किस्मत, प्यार और पैसों से जुड़ी हर परेशानी को दूर करना है तो राशि अनुसार लकी चार्म का उपयोग करें। अगर लकी चार्म अपने साथ रखें तो प्यार और पैसों में भी किस्मत का हमेशा साथ मिलता है। ज्योतिष के अनुसार हर राशि का किसी न किसी वस्तु पर अपना विशेष प्रभाव होता है। ऐसी वस्तुए हमेशा साथ रखने से राशि और ग्रहों का शुभ प्रभाव पड़ता है। ये वस्तएं लकी चार्म कहलाती है। अगर आप चाहते हैं आपके हर काम बने तो लकी चार्म अपने पास रखें।

मेष- मेष राशि वाले लकी चार्म के रूप में लाल हकीक अपने साथ रखें।

वृष- वृष राशि वाले अगर सफेद कोड़ी को लकी चार्म के रूप में अपने पास रखें तो किस्मत हमेशा साथ देती है।

मिथुन- गणेश रूद्राक्ष मिथुन राशि वालों के लिए लकी रहेगा।

कर्क- आपकी राशि का स्वामी चंद्रमा है इसलिए चांदी का चंद्रमा कर्क राशि वालें हमेशा अपने साथ रखे तो हर काम बनते चले जाएंगे।

सिंह- सिंह राशि वालें सोने या तांबे का बना सूर्य का लॉकेट साथ में रखें या पहनें यही आपका लकी चार्म होगा।

कन्या- राशि के अनुसार गणेश जी का लॉकेट आपके लिए लकी चार्म साबित होगा। इसे पहने या अपने साथ रखें।

तुला- इस राशि वालों के लिए लकी चार्म के रूप में गौमती चक्र सर्वश्रेष्ठ रहेंगे।

वृश्चिक- मंगल की इस राशि के लोग हाथी दांत से बनी किसी भी वस्तु का लॉकेट गले में पहनें या अपने साथ रखें।

धनु- इस राशि का स्वामी गुरु है इसलिए आप हल्दी की गांठ को अपना लकी चार्म बनाएं।

मकर- फिरोजा रत्न लॉकेट में बना कर पहने तो वो आपके लकी चार्म का काम करेगा।

कुंभ- शनि देव की राशि के लोग अष्ट धातु की अंगुठी को अपना लकी चार्म बना कर पहनें।

मीन- इस राशि के लोग लकी चार्म के लिए गोल्ड से बनी कोई भी वस्तु अपने साथ रख सकते हैं।

1 रुपए की ये चीज तिजोरी में ऐसे रख दो, हमेशा पैसा भरा रहेगा…

  • तिजोरी जहां पैसा, ज्वेलरी और अन्य बेशकीमती वस्तुएं रखी जाती है। अत: यह जगह बहुत ही पवित्र और सकारात्मक ऊर्जा से भरपूर होनी चाहिए। जिससे कि घर में बरकत बनी रह सके और पैसों की कभी कमी न आए। यदि तिजोरी के आसपास कोई नकारात्मक शक्तियां सक्रिय हैं तो उस घर में कभी भी पैसों कमी कभी पूरी नहीं हो सकेगी। ऐसे में शास्त्रों के अनुसार कुछ उपाय बताए गए हैं।
  • तिजोरी में हमेशा पैसा ही पैसा भरा रहे, धन की देवी महालक्ष्मी की कृपा सदैव आप पर बनी रहे, इसके लिए एक छोटा सा उपाय अपनाएं। शास्त्रों के अनुसार श्रीगणेश रिद्धि और सिद्ध के दाता है। कोई भी भक्त नित्य श्रीगणेश का ध्यान करता है तो उसे कभी भी धन-धान्य की कमी नहीं सताती। श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए कई उपाय हैं। प्रतिदिन गणेशजी की विधिवत पूजा करें और किसी भी शुभ मुहूर्त में विशेष पूजा करें। पूजन में गणेशजी के प्रतीक स्वरूप सुपारी रखी जाती है। बस यही सुपारी पूजा पूर्ण होने के बाद अपनी तिजोरी में रख दें।
  • पूजा में उपयोग की गई सुपारी में श्रीगणेश का वास होता है। अत: यह तिजोरी में रखने से तिजोरी के आसपास के क्षेत्र में सकारात्मक और पवित्र ऊर्जा सक्रिय रहेगी जो नकारात्मक शक्तियों को दूर रखेगी। पूजा में उपयोग की जाने वाली सुपारी बाजार में मात्र 1 रुपए में ही प्राप्त हो जाती है लेकिन विधिविधान से इसकी पूजा कर दी जाए तो यह चमत्कारी हो जाती है। जिस व्यक्ति के पास सिद्ध सुपारी होती है वह कभी भी पैसों की तंगी नहीं देखता, उसके पास हमेशा पर्याप्त पैसा रहता है।

Happy Deepwali – दीपवाली पर पूरे भारतवर्ष को और विदेशो में रहने वाले भारतीय भाइयो को दीपवाली की बहुत बहुत बधाईयां

Popular Topic On Rkalert

जानिए किस कारण से महिलाएं नहीं फोड़ती नारियल, ये है... बिना नारियल के धार्मिक पूजा-पाठ की क्रिया पूरी नहीं होती नारियल को हिन्दू धर्म में शुभ माना जाता ...


More News Like Our Facebook Page Follow On Google+ And Alert on Twitter Handle


User Also Reading...
RRB NTPC Result 2016 IBPS Clerk Recruitment Rio Olympic 2016
JobAlert Android Apps Punjabi Video
HD Video Health Tips Funny Jokes

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*